Zomato को लेकर एक्सपर्ट क्यों है Bullish – जानिए ये है वजह

Zomato Updates:

Zomato की दूसरी तिमाही के वित्तीय परिणामों से पता चलता है कि कंपनी का कारोबार मजबूत हो रहा है। कंपनी ने इस तिमाही में Rs.36 करोड़ का शुद्ध लाभ दर्ज किया, जो पिछले साल की इसी तिमाही में Rs.251 करोड़ के शुद्ध घाटे से एक बड़ा सुधार है।

शेयर कीमतें शुक्रवार को 10% से अधिक बढ़ गई और Rs.120 के 52 हफ्तों के उच्चतम स्तर पर पहुँच गई। कंपनी ने अपनी एक रिपोर्ट में बताया है कि वित्त वर्ष 2023-24 (Q2FY24) के लिए जुलाई-सितंबर तिमाही में Rs.36 करोड़ की नेट लाभ हुआ, जबकि इसी तिमाही में पिछले वर्ष  में Rs.251 करोड़ की नेट नुक्सान हुआ था। इसका मतलब है कि कंपनी के वित्तीय प्रदर्शन में महत्वपूर्ण सुधार हुआ है और वे अच्छे लाभ की ओर बढ़ रहे हैं। यह सुधार के परिणामस्वरूप, शेयर कीमतें शुक्रवार को वृद्धि की ओर बढ़ गई और 52 हफ्तों के उच्चतम स्तर तक पहुँच गई।

Zomato के लिए Q2FY24 में एक महत्वपूर्ण सफलता हुई है। पिछले साल के मुकाबले, Zomato  ने Rs.251 करोड़ की हानि से Rs.36 करोड़ की लाभ की रिपोर्ट दर्ज की है, जिससे उनके कारोबार की स्थिति में सुधार हुआ है। इसके परिणामस्वरूप, शेयर कीमत में 52 हफ्तों की उच्चतम स्तर तक वृद्धि हुई और उनके आर्थिक प्रदर्शन में महत्वपूर्ण सुधार के कारण शेयर कीमत में 10% से अधिक की वृद्धि दर्ज की गई।

इससे समझाया जा सकता है कि Zomato का कारोबार पिछले साल के मुकाबले में सुधार दिखा रहा है और उन्होंने Q2FY24 में लाभ की रिपोर्ट की है, जिससे उनके सांझा के मूल्य में वृद्धि हुई है।

कैसा रहा इस तिमाही Zomato का कारोबार?

ज़ोमैटो के पिछले साल की दूसरी तिमाही में ऑपरेशन से होने वाली कमाई 1661 करोड़ रुपए थी। इस साल की दूसरी तिमाही में, यह बढ़कर 2848 करोड़ रुपए हो गई। इसका मतलब है कि ज़ोमैटो की कमाई में 72% की वृद्धि हुई है।

ज़ोमैटो की कमाई में इतनी वृद्धि के कई कारण हैं। एक कारण यह है कि भारत में ऑनलाइन फूड डिलीवरी का बाजार बढ़ रहा है। दूसरा कारण यह है कि ज़ोमैटो ने अपने कारोबार को बढ़ाने के लिए कई नए कदम उठाए हैं।

ज़ोमैटो की इस वृद्धि से यह पता चलता है कि कंपनी अच्छा प्रदर्शन कर रही है। यह निवेशकों के लिए एक अच्छा संकेत है।

विश्लेषकों का मानना ​​था कि ज़ोमैटो की कमाई में अच्छी वृद्धि होगी। एक विश्लेषक ने कहा कि Blinkit की कमाई में भी अच्छी वृद्धि होगी। Blinkit एक ऑनलाइन ग्रोसरी डिलीवरी कंपनी है जिसे ज़ोमैटो ने खरीदा है। दूसरे विश्लेषक ने कहा कि ज़ोमैटो की दूसरी सहायक कंपनी Hyperpure की कमाई में भी अच्छी वृद्धि होगी। Hyperpure एक ऑनलाइन किराना स्टोर है।

इन विश्लेषकों के अनुमान सही साबित हुए। ज़ोमैटो की कमाई में 72% की वृद्धि हुई है। Blinkit की कमाई में 82% की वृद्धि हुई है। Hyperpure की कमाई में 58% की वृद्धि हुई है। इन कंपनियों की बढ़ती कमाई से यह पता चलता है कि ऑनलाइन ग्रोसरी और किराना डिलीवरी का बाजार बढ़ रहा है।

Zomato की कमाई में इतनी वृद्धि के क्या कारण हैं?

ज़ोमैटो एक ऑनलाइन फूड डिलीवरी कंपनी है। यह कंपनी लोगों को अपने घर पर खाना मंगाने की सुविधा देती है। भारत में ऑनलाइन फूड डिलीवरी का बाजार तेजी से बढ़ रहा है। इसकी वजह यह है कि लोग अब बाहर खाना खाने के बजाय अपने घर पर खाना मंगाना पसंद करते हैं।

त्योहारों का मौसम शुरू हो चुका है। इस दौरान लोग घर पर ज्यादा खाना खाते हैं। विश्व कप भी चल रहा है। इस दौरान लोग अपने घर पर बैठकर खेल देखना और खाना खाना पसंद करते हैं। इन दोनों वजहों से ज़ोमैटो की बिक्री बढ़ने की संभावना है। ज़ोमैटो ने अपनी बिक्री बढ़ाने के लिए कई नए कदम भी उठाए हैं। कंपनी ने अपने डिलीवरी नेटवर्क का विस्तार किया है। कंपनी ने अपने ऐप को भी बेहतर बनाया है। इन कदमों से भी ज़ोमैटो की बिक्री बढ़ने की संभावना है।

जोमैटो Zomato में टारगेट और स्टॉप लोस क्या होना चाहिए ?

Zomato Updates

अगर आप बाजार की स्थिति को ध्यान में रखते हैं, तो आपको यह जानकर खुशी होगी कि एक्सपर्ट्स ने अच्छे समय पर सलाह दी है। उन्होंने कहा है कि Zomato में टारगेट पर आपका पहला लक्ष्य Rs.128 पर रखें और दूसरा लक्ष्य Rs.140 पर हो। आपको यह भी सुझाया गया है कि आप अपनी नुकसान को न बढ़ने दें, इसके लिए Zomato स्टॉप लोस Rs.105 के नीचे न जाएं।

आप ट्रेड करना चाहते हैं तो आप एक प्लेट बना सकते हैं। इसमें आप Rs.105 पर स्टॉप लॉस लगाएं और Rs.128 को लक्ष्य बनाएं, उसके बाद Rs.140 को हाइ पर लक्ष्य बनाएं।

Zomato की प्रतिस्पर्धा क्या है?

Zomato को Swiggy, Dunzo, और UberEats जैसी कंपनियों से प्रतिस्पर्धा का सामना करना पड़ रहा है। इन कंपनियों ने भी भारत में ऑनलाइन फूड डिलीवरी बाजार में अपनी उपस्थिति बढ़ाने के लिए निवेश किया है।

Zomato के लिए प्रमुख जोखिम क्या हैं?

Zomato के लिए प्रमुख जोखिमों में शामिल हैं: Zomato को अपने घाटे को कम करने पर एक्शन लेना होगा, अपने प्रतिस्पर्धा से बचने के लिए कुछ अलग करना होगा ताकि वो अपनी सेल बड़ा सके और भी जो अन्य कारण है उसे भी ध्यान में रखना होगा।

Conclusion:  क्या Zomato का शेयर खरीदना चाहिए?

ज़ोमैटो एक अच्छी तरह से स्थापित कंपनी है जो भारत में ऑनलाइन फूड डिलीवरी बाजार में अग्रणी है। कंपनी ने हाल ही में वर्षों बाद थोड़ी मजबूत वृद्धि दर्ज की है, और विश्लेषकों का मानना ​​है कि कंपनी के पास दीर्घकालिक विकास के लिए एक मजबूत आधार है।

हालाँकि, ज़ोमैटो को अभी भी कुछ चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है। कंपनी को अपने घाटे को कम करने की आवश्यकता है, और इसे प्रतिस्पर्धा से बचने की भी आवश्यकता है।

हम किसी भी तरह की खरीदारी और बिकवाली की सलाह नहीं देते हम आपको कंपनी के बारे में जानकारी देते है ताकि आपको फासला लेने में आसानी हो खरीदना और बेचना और उससे फायदा या नुक्सान आपकी स्वयं का फासला होगा।

आप हमरी पोस्ट को तुरंत पाना चाहते है तो आपको हमारे बेल आइकॉन के अलर्ट को एक्सेप्ट काटना होगा ताकि जैसे ही हम पोस्ट करे आपको उसका notification तुरंत मिल जाये। आप अपनी राय जरूर बताये कमेंट करके ताकि और लोगो को उससे फायदा मिल सके ।

Multibagger Stocks

Re-List होने के बाद इस शेयर ने मचाया तहलका – 20 दिन में 2900% की तेजी

दमदार शेयर, 10 साल में दे दिया 28,000% से ज्यादा का रिटर्न, 1 लाख के बने ढाई करोड़ से ज्यादा: KEI Industries Ltd.

Recent Post

Google Stories

मेरा नाम M R है और मैं एक शेयर मार्किट एनालिस्ट और ब्लॉगर हूँ. मुझे शेयर बाज़ार के बारे में जानकारी रखना और बताना अच्छा लगता है. मुझे लगभग 7 साल का अकाउंट्स का अनुभव है और लगभग 4 साल से शेयर बाज़ार में एक्टिव हूँ. मैं एक वेबसाइट में लगातार शेयर मार्किट की खबरें, टिप्स, ट्रेंड्स और विश्लेषण अपडेट करता हूँ. मेरा उद्देश्य है कि मैं शेयर मार्किट के बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक और शिक्षित करूँ. मेरा ब्लॉग मेरा प्रयास है कि मैं शेयर मार्किट के बारे में अपने विचार, अनुभव और ज्ञान को आपके साथ साझा करूँ. आप मुझे अपने सुझाव, प्रश्न और टिप्पणियाँ भेज सकते हैं. मुझे आपसे सुनने का इंतजार रहेगा

Sharing Is Caring:

Leave a comment

दो गुना लिस्ट होगा ये आईपीओ, अभी है खरीदने का मौका मात्र 70 रुपए के माल्टीबैगर पेनी शेयर ने दिया 800% ताबड़तोड़ रिटर्न, इलेक्ट्रिक स्कूटी बनाती है कंपनी, निवेशक हुए मलाल इस डिफेंस स्टॉक में FIIs बढ़ा रहे अपनी शेयर होल्डिंग, क्या होने वाला है इसमें बढ़ा खेल? 6 महीने में पैसा डबल अब होंगे 10 शेयर से 100 शेयर, जल्दी उठाए फायदा रईसों के होटल वाली कंपनी, जूनिपर होटल्स ले कर आ रही आइपीओ, कितना बनेगा प्रॉफिट या होगा नुकसान?