STOCK_MARKET_INDIA_.NET (SHARE MARKET IN HINDI) LOGO

10 रूपये से कम पैनी शेयर में FIIs ने बढाई अपनी होल्डिंग, 70% दिया 6 महीने में रिटर्न – Vikas Lifecare Share News In Hindi

Vikas Lifecare Share News In Hindi – शेयर बाजार में फॉरेन इन्वेस्टर और डोमेस्टिक इन्वेस्टर का किसी भी शेयर में अपनी शेयर होल्डिंग बढ़ाना काफी अच्छा माना जाता है इसी वजह से जितने भी एक्सपर्ट है वह इस बात पर ज्यादा गौर करते हैं कि फॉरेन इन्वेस्टर और डोमेस्टिक इन्वेस्टर कहां पर निवेश कर रहे हैं और कहां पर अपनी पोजीशन बना रहे हैं।

हिंदी में शेयर मार्किट की जानकारी & फ्री में चार्ट पैटर्न कीPDF के लिए ज्वाइन करे

ikas Lifecare Share
ikas Lifecare Share

अभी हाल ही में खबर आई थी कि ₹10 के कम पैनी शेयर में फॉरेन इन्वेस्टर ने अपनी शेयर होल्डिंग बढ़ाई है इस शेयर का नाम है विकास लाइफ केयर लिमिटेड (Vikas Lifecare Ltd)। जिसमें फॉरेन इन्वेस्टर की रुचि देखने को मिली है। अभी हाल फिलहाल में Vikas Lifecare Share ₹6 से ₹7 के बीच ट्रेड करते हुए दिखाई पड़ रहे हैं और वही इस शेयर ने पिछले 6 महीने में 70% का रिटर्न दे दिया है। विकास लाइफ केयर सिस्टम के बारे में हम थोड़ा डिटेल में समझने वाले हैं।

शेयर बाजार में आज की बिकवाली का माहौल देखने को मिला निफ्टी 50, सेंसेक्स, बैंक निफ़्टी तीनों में गिरावट देखने को मिली। इसी बीच Vikas Lifecare Share में 1.72 % की गिरावट की गिरावट दर्ज की गयी, गुरुवार के दिन Vikas Lifecare Share 6.27 रुपए पर ट्रेड हो रहे हैं।

52 सप्ताह में Vikas Lifecare Share ने दिया 197% का रिटर्न

Vikas Lifecare Ltd
Vikas Lifecare Ltd

विकास लाइफ केयर लिमिटेड के शेयर ने पिछले तीन महीने में 21.98% का रिटर्न, वहीं पिछले 6 महीने में 72.25% रिटर्न दिया है, Vikas Lifecare Share के 52 सप्ताह का न्यूनतम 2.6 रुपए है जो की 24 मई 2023 में बना था इसके अलावा इस शेयर ने अपने 52 सप्ताह का अधिकतम 23 जनवरी 2024 में बनाया था जो कि 7.92 रुपए का था। Vikas Lifecare Share ने 52 सप्ताह के न्यूनतम से अधिकतम तक 197.74 फीसदी का रिटर्न दिया है।

Vikas Lifecare Share के बारे में

ikas Lifecare Share
ikas Lifecare Share

विकास लाइफकेयर लिमिटेड एक कंपनी है जो 1995 में शुरू हुई थी। इस कंपनी के चार प्रमुख व्यापार क्षेत्र हैं:

1. ट्रेडिंग: इसमें प्लास्टिक प्रसंस्करण के लिए बेस पॉलिमर, एडिटिव्स और रसायनों का व्यापार किया जाता है।

2. कमोडिटी कंपाउंड: इसमें इंडस्ट्रियल और पोस्ट-कंज्यूमर वेस्ट मटेरियल्स से अप-साइकल्ड पॉलिमर कंपाउंड जैसे EVA, PVC, PP, PE आदि बनाए जाते हैं।

3. एनवायरनमेंट प्रोटेक्शन: इसमें प्लास्टिक वेस्ट को रीसाइकल और अप-साइकल करके EPR (एक्सटेंडेड प्रोड्यूसर रिस्पॉन्सिबिलिटी) को पूरा किया जाता है। EPR का मतलब है कि प्लास्टिक उत्पाद और पैकेजिंग मटेरियल का उपयोग करने वाले बड़े कंपनियों को उनका प्रबंधन करना होता है।

4. एफएमसीजी और हेल्थकेयर: इसमें निम्नलिखित उप-वर्ग शामिल हैं:

A) स्मार्ट प्रोडक्ट बिजनेस: इसमें स्मार्ट गैस और वॉटर मीटर्स बनाए जाते हैं।

B) पॉलिमर और केमिकल बिजनेस: इसमें रीसाइकलिंग मटेरियल्स, पॉलिमर कंपाउंड का व्यापार और निर्माण किया जाता है।

C) एफएमसीजी सेगमेंट: इसमें एग्रो प्रोडक्ट बनाए जाते हैं।

D) इंफ्रा प्रोडक्ट्स: इसमें स्टील फिटिंग्स और स्टील बार्स बनाए जाते हैं।

E) जल जीवन मिशन के लिए फूड ग्रेड पाइपिंग सिस्टम: इसमें गांवों में पानी पहुंचाने के लिए फूड ग्रेड पाइप्स बनाए जाते हैं।

सब्सिडरी कंपनी दुबई में करने जा रही दो बड़ा इवेंट

इसके अलावा विकास लाइफ केयर लिमिटेड के शेयर इसलिए भी फोकस में क्योंकि अभी हाल ही में उन्होंने बताया कि उनकी सब्सिडरी कंपनी दुबई में दो बड़ा इवेंट ऑर्गेनाइज करने जा रही हैं। 

विकास लाइफकेयर लिमिटेड की सहायक कंपनी PME एंटरटेनमेंट 27, Dubai में दो कार्यक्रम करने जा रही है जो दर्शकों के लिए काफी महत्वपूर्ण होने वाले हैं पहला कार्यक्रम अरिजीत सिंह का होगा जो की 27 अप्रैल 2024 को कोका-कोला अरेना में होगा इसके अलावा दूसरा कार्यक्रम प्रसिद्ध कवि डॉक्टर कुमार विश्वास का काव्य पाठ होगा जो की 26 मई 2024 को होगा और जो इसका शीर्षक रहने वाला है वह रहने वाला है “अपने अपने राम राम”। इन दोनो कार्यक्रम के चलते विकास लाइफ केयर लिमिटेड के शेयर इस समय हाईलाइट पर है।

FIIs ने बढाई शेयर होल्डिंग

विकास लाइफ का लिमिटेड में फॉरेन इन्वेस्टर ने अपनी शेयर होल्डिंग बढाई है जहां दिसंबर 2023 में फॉरेन इन्वेस्टर की शेयर होल्डिंग केवल 0.02% थी, वही जनवरी 2024 में यह बढ़कर 6.78% हो गई है जिसमें रिटेल इन्वेस्टर ने अपनी होल्डिंग कम की है दिसंबर 2023 में 88.58% की होल्डिंग थी और वही जनवरी 2024 में यह होल्डिंग कम होकर आ 2.59% रह गई है अब क्योंकि फॉरेन इन्वेस्टमेंट ने इसमें अपनी शेयर होल्डिंग बधाई है तो यह एक पॉजिटिव साइन माना जाता है।

निष्कर्ष (Conclusion)

फॉरेन इन्वेस्टर (FIIs) ने विकास लाइफ केयर लिमिटेड में थोड़ी रुचि दिखाइ जिसके कारण एक पॉजिटिव साइन माना जा रहा है इसके अलावा कंपनी की सब्सिडरी कंपनी ने भी दुबई में दो प्रोग्राम की घोषणा की है जिसके कारण Vikas Lifecare Share हाईलाइट है, आपको बता दें कंपनी को आप लगभग क़र्ज़ फ्री मान सकते हैं क्योंकि सितंबर 2023 तक कंपनी के ऊपर तो 6 करोड रुपए का कर्ज था वहीं इसके एवज में कंपनी 208 करोड रुपए रिजर्व एंड सरप्लस में रखे हुए हैं जिससे जब चाहे कंपनी अपने कर्ज़ को उतार सकती है।

डिस्क्लेमर – यहां पर हमने आपको कंपनी के बारे में बताया और कंपनी से संबंधित जो खबरें चल रही है उसके बारे में जानकारी दी है लेकिन या किसी भी तरह से निवेश करने की सलाह नहीं है किसी भी शेयर में निवेश करने से पहले अपनी वित्तीय सलाहकार से सलाह जरूर है।

FAQs

क्या विकास लाइफ केयर लिमिटेड कर्ज फ्री कंपनी है?

विकास लाइफ केयर लिमिटेड के ऊपर सितंबर 2023 में 26 करोड रुपए का कर्जा है, जिसके बदले में कंपनी ने 208 करोड रुपए अपने रिजर्व एंड सरप्लस पर रखे हैं जिससे वह कभी भी अपने कर्ज को चुका सकती है इसलिए आप मान सकते हैं विकास लाइफ केयर लिमिटेड एक कर्ज़ फ्री कंपनी है।

विकास लाइफ केयर लिमिटेड का मार्केट कैपिटल कितना है?

विकास लाइफ केयर लिमिटेड का मार्केट कैपिटल 1009 करोड रुपए है जो की क्रूड ऑयल के सेक्टर में आती है और एक स्मॉल कैप कंपनी है।

क्या Vikas Lifecare Share एक पैनी शेयर है?

जी बिल्कुल Vikas Lifecare Share एक पैनी शेयर है क्योंकि पैनी शेयर की परिभाषा यह दी जाती है जो भी शेयर 100 रुपए से पैसे कम है या फिर फंडामेंटल कहीं ना कहीं कमजोर है तो उसे पैनी शेयर में गिना जाता है तो विकास लाइफ केयर लिमिटेड एक पैनी शेयर है।

विकास लाइफ केयर लिमिटेड की करंट न्यूज़ क्या चल रही है?

विकास लाइफ केयर लिमिटेड में दो चीज हाईलाइट हो रही है। पहले कंपनी में फॉरेन इन्वेस्टर ने अपनी शेयर होल्डिंग बढ़ाई है इसके अलावा विकास लाइफ केयर की सबसीडरी कंपनी दुबई में दो प्रोग्राम करने वाली है जिसको लेकर Vikas Lifecare Share हाईलाइट है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top