शेयर बाज़ार में भरी गिरावट क्या है 4 कारण: सेंसेक्स 522 पॉइंट और निफ्टी 159.60 पॉइंट लुड़का – Expert Views

Stock Market India News: शेयर बाज़ार में कल के  दिन भी भारी गिरावट देखने को मिली जहाँ एक तरफ सेंसेक्स ने 552 पॉइंट गिरावट दिखाई वही निफ्टी 50 ने 159.60 पॉइंट की गिरावट देखने को मिली ये गिरावट लगातार जारी है बाज़ार को सँभालने  का मौका तक नहीं दे रही।

आपको बतादें लगातार गिरावट के चलते 5 वे दिन निवशको क लगभग 15 लाख करोड़ रूपये अब तक डूब चुके है पहले BSE में लिस्टेड कोम्पनियो का कुल मार्किट कैपिटल 323.87 लाख करोड़ था जोकि 17 अक्टूबर को नोट किया गया था और अब शेयर market के गिरते यह 309.32 लाख करोड़ रुपए हो गया है।

आज हम 4 ऐसे कारणों के बारे में बार करेंगे जिसे शेयर माकेट के एक्सपर्ट बाज़ार के गिरने का कारण बता रहे है।

कैसा रहा कल का बाज़ार ?

शेयर मार्किट में कल की दिन भी भयंकर बिकवाली देखी गयी जहाँ एक तरफ सेंसेक्स 522 पॉइंट्स नीचे फिसला है वही निफ्टी50 की भी हालत कुछ ठीक नहीं है वह भी 159.60 पॉइंट्स नीचे फिसल गया।

कल के दिन FIIs ने 4236.60 करोड़ रूपये की बिकवाली की जिसका असर शेयर मार्किट इंडिया में देखने को मिला जहाँ एक तरफ सेंसेक्स का कुल मार्किट कैपिटल 15 लाख करोड़ रूपये घटा है वही दूसरी तरफ निफ्टी50 के 40 शेयर्स लाल निशान पर बंद होते दिखाए दिए।

किन सेक्टर्स में बिकवाली अधिक देखने को मिली ?

शेयर मार्किट में कल के दिन सबसे जयादा IT कम्पनी, फाइनेंस कंपनी और फार्मा सेक्टर के अधिकतर शेयर  धडाम होते हुए दिखाई दिए market गिरने का असर इन शेयर  में सबसे अधिक देखने को मिला।

कोन रहे कल गिरते मार्किट के टॉप गेनर और टॉप लूज़र?

अगर हम बात करे सेंसेक्स की तो सेंसेक्स में टॉप गेनर की लिस्ट में मारुती, महिंद्रा एंड महिंद्रा, टाटा स्टील और भारती स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया (SBI) रहे।

अगर हम बात करे सेंसेक्स की तो सेंसेक्स में टॉप लूज़र की तो आईटी सेक्टर की कंपनी इन्फोसिस, भारती ऐत्टेल, बजाज फाइनेंस और टाटा मोटर्स रहे।

निफ्टी 50 में टॉप गेनर की लिस्ट में कोल् इंडिया, टाटा स्टील, SBI, हिंडाल्को व अन्य रहे इसी तरह निफ्टी टॉप लूज़र इन्फोसिस, अडाणी इंटरप्राइजेज, अपोलो हॉस्पिटल व अन्य रहे।

क्या 4 कारण है जिसकी वजह से शेयर मार्किट में लगातार गिरावट जारी है?

एक्सपर्ट की माने तो हाल के हफ्तों में भारतीय शेयर बाजार में गिरावट आई है। इस गिरावट के कई कारण हैं, जिनमें शामिल हैं:

1. बॉन्ड यील्ड में वृद्धि- हाल ही में बॉन्ड यील्ड में 5 फीसदी की बढ़ोतरी केंद्रीय बैंक ब्याज दरों में वृद्धि कर रहे हैं ताकि मुद्रास्फीति को नियंत्रित किया जा सके। इससे बॉन्ड यील्ड में वृद्धि हुई है, जिससे शेयरों की तुलना में बॉन्ड अधिक आकर्षक हो गए हैं।

2. भू-राजनीतिक तनाव- यूक्रेन युद्ध जारी है, और मध्य पूर्व में तनाव बढ़ रहा है। इससे वैश्विक अर्थव्यवस्था को नुकसान हो सकता है, जिससे शेयर बाजारों में अस्थिरता बढ़ सकती है।

3. कॉर्पोरेट परिणाम- कुछ कंपनियों के शुरुआती परिणाम उम्मीदों से कम रहे हैं। इससे निवेशकों को चिंता हुई है कि आर्थिक मंदी आ सकती है, जिससे शेयर बाजारों में और गिरावट आ सकती है।

4.मुनाफावसूली की आशंका – बाजार में गिरावट का एक और कारण मुनाफावसूली की आशंका है। जब बाजार तेजी से बढ़ रहा होता है, तो निवेशक अक्सर अपने लाभ को सुरक्षित करने के लिए कुछ शेयर बेचते हैं। यह बाजार में गिरावट का कारण बन सकता है।

भविष्य के लिए क्या?

बाजार में गिरावट के बावजूद, कुछ विश्लेषकों का मानना ​​है कि भारतीय शेयर बाजार में लंबी अवधि में वृद्धि जारी रहेगी। हालांकि, अल्पावधि में, बाजार में और गिरावट आ सकती है।

Picture Source: https://www.freepik.com/

मेरा नाम M R है और मैं एक शेयर मार्किट एनालिस्ट और ब्लॉगर हूँ. मुझे शेयर बाज़ार के बारे में जानकारी रखना और बताना अच्छा लगता है. मुझे लगभग 7 साल का अकाउंट्स का अनुभव है और लगभग 4 साल से शेयर बाज़ार में एक्टिव हूँ. मैं एक वेबसाइट में लगातार शेयर मार्किट की खबरें, टिप्स, ट्रेंड्स और विश्लेषण अपडेट करता हूँ. मेरा उद्देश्य है कि मैं शेयर मार्किट के बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक और शिक्षित करूँ. मेरा ब्लॉग मेरा प्रयास है कि मैं शेयर मार्किट के बारे में अपने विचार, अनुभव और ज्ञान को आपके साथ साझा करूँ. आप मुझे अपने सुझाव, प्रश्न और टिप्पणियाँ भेज सकते हैं. मुझे आपसे सुनने का इंतजार रहेगा

Sharing Is Caring:

Leave a comment

दो गुना लिस्ट होगा ये आईपीओ, अभी है खरीदने का मौका मात्र 70 रुपए के माल्टीबैगर पेनी शेयर ने दिया 800% ताबड़तोड़ रिटर्न, इलेक्ट्रिक स्कूटी बनाती है कंपनी, निवेशक हुए मलाल इस डिफेंस स्टॉक में FIIs बढ़ा रहे अपनी शेयर होल्डिंग, क्या होने वाला है इसमें बढ़ा खेल? 6 महीने में पैसा डबल अब होंगे 10 शेयर से 100 शेयर, जल्दी उठाए फायदा रईसों के होटल वाली कंपनी, जूनिपर होटल्स ले कर आ रही आइपीओ, कितना बनेगा प्रॉफिट या होगा नुकसान?