Free pdf + Book । चार्ट पैटर्न pdf free download । 1M Download


इसमें आपको “चार्ट पैटर्न pdf free download” और एक E-Book भी मिलेगी अगर कुल डाउनलोड की बात करे तो 1 मिलियन से भी ज्यादा बार डाउनलोड और गूगल में सर्च की जा चुकी है।

कैंडलेस्टिक एक ऐसा टूल है जिसका इस्तेमाल टेक्निकल एनालिसिस के लिए किया जाता है यह टेक्निकल एनालिसिस स्टॉक, कमोडिटी, और करेंसी और भी जो चीज हैं उसके प्राइस एक्शन को देखने समझने के लिए किया जाता है ये अनुमान लगाने की कोशिश की जाती है कि प्राइस ऊपर जा सकता है या नीचे जा सकता है।


PDF File Nameचार्ट पैटर्न pdf free download + Book + Bonus
LanguageHindi + English
CategoryTrading
Total Pages36 + More Pages
DownloadLink in Below
PDF Size (Approx)1.18 MB +

यह कैंडलेस्टिक पेटर्न केवल एक कैंडल भी हो सकती है या फिर दो कैंडल हो सकती है या फिर तीन कैंडल हो सकती है या फिर कैंडल का समूह भी हो सकता है जिसको एक पैटर्न के रूप में देखकर हम यह अंदाजा लगाते हैं कि अभी प्राइस नीचे जाने वाला है या फिर प्राइस ऊपर जाने की संभावना है। आप इस चार्ट पैटर्न pdf free download को नीचे से डाउनलोड करके अपने पास सेव कर सकते है वो भी बिल्कुल फ्री

आपको बता दें कैंडलेस्टिक पेटर्न सबसे पहले जापान में इस्तेमाल किया गया था लगभग 17 सेंचुरी (1700) में जापानी जो होम्मा के नाम से जाने जाने वाले एक जापानी व्यक्ति ने पाया कि कीमत और चावल की आपूर्तत और मांग के बीच एक संबंध था या कहे की सप्लाई और डिमांड के बीच एक कांबिनेशन पाया, एक लिंक पाया इसके बेस पर उसने यह कैंडलस्टिक का इजाद किया। उसके बाद से यह कैंडलेस्टिक धीरे-धीरे चलन में आने लगी और आज यह शेयर मार्केट में भी इस्तेमाल होती है।

चार्ट पैटर्न pdf free download
चार्ट पैटर्न pdf free download

चार्ट पैटर्न की अधिक जानकारी के लिए हम आप नीचे चार्ट पैटर्न pdf free download कर सकते है

कैंडलेस्टिक पेटर्न को समझने के लिए सबसे पहले कुछ टर्म होते हैं उसको समझ लेते हैं।

  • अपरविक (Upper Wick)  या शैडो (Upper Shadow)
  • लोअरविक (Lower Wick) या शैडो (Lower Shadow)
  • बॉडी (Body)
  • ओपन प्राइज (Open Price) 
  • क्लोज प्राइस (Close Price)
  • हाई प्राइस (High Price)
  • लो प्राइस (Low Price)
  • ग्रीन कैंडल (Green Candle) या वाइट कैंडल (White Candle)
  • रेड कैंडल्स (Red Candle) या ब्लैक कैंडल (Black Candle)

Candle Stick Pattern
Candle Stick Pattern

अपरविक (Upper Wick)  या शैडो (Upper Shadow) : पूरी कैंडलेस्टिक बनने के बाद ऊपर की जो डंडी होती है उसे हम अपरविक या शैडो बोलते हैं।

लोअरविक (Lower Wick) या शैडो (Lower Shadow): पूरी कैंडलेस्टिक बनने के बाद जो नीचे की डंडी होती है कैंडल की, उसे कहते हैं लोअर वीक या शैडो।

बॉडी (Body):  पूरी कैंडल स्टिक में जहां से प्राइस शुरू हुआ और जहां पर खत्म हुआ उस दौरान जो एक बॉडी बनती है या एक ढांचा बनता है उसे हम बॉडी बोलते हैं।

ओपन प्राइज (Open Price): कैंडलेस्टिक बनते समय जब कोई कैंडल बनती है तो उसके बनते समय जब वह जिस प्राइस पर ओपन हुआ उसे हम ओपन प्राइज कहते हैं।

क्लोज प्राइस (Close Price): पूरी कैंडल बनाने पर जब कैंडल खत्म हुई जिस प्राइस पर उसे हम क्लोज प्राइस कहते हैं।

हाई प्राइस(High Price): पूरी कैंडल बनने में जो सबसे ज्यादा प्राइस गया उसे हम हाई प्राइस बोलते हैं।

लो प्राइस (Low Price): कोई कैंडल बनने में जो सबसे कम प्रिंस बना या जितना नीचे तक कि वह प्राइस गया उसे हम लो प्राइस कहते हैं।

इसके अलवा भी आप काफी सारे एलेमेंट्स के बारे में जान सकते है जोकि आप चार्ट पैटर्न pdf free download करके और उसे पढ़कर जान सकते है

ग्रीन कैंडल (Green Candle) या वाइट कैंडल (White Candle): कैंडल स्टिक ग्रीन कैंडलेस्टिक या फिर व्हाइट कैंडलेस्टिक तब बनती है जब जो प्राइस पर ओपन हुआ उससे ज्यादा प्राइस पर बंद हुआ तो तब ग्रीन कैंडलेस्टिक या फिर व्हाइट कैंडलेस्टिक दोनों सेम चीज है बनती है काफी टेक्निकल एनालिसिस वाइट कैंडलस्टिक का इस्तेमाल करते हैं कलर चेंज हो जाता है अधिकतर शेयर मार्केट में ग्रीन कैंडलस्टिक का इस्तेमाल होता है जो की एक पॉजिटिव पॉजिटिविटी को इंडिकेट करता है, की प्राइस बढ़ा है।

रेड कैंडल्स (Red Candle) या ब्लैक कैंडल (Black Candle): जिस प्राइस पर कैंडल बनी उसके नीचे यानी कम प्राइस में कैंडल क्लोज हुई तब यह रेट कैंडल बनती है या फिर हमसे ब्लैक कैंडल में भी देख सकते हैं दोनों एक ही चीज है लेकिन अधिकतर लोग अब रेड कैंडलेस्टिक का इस्तेमाल करते हैं जो एक निगेटिविटी दर्शाता है की प्राइस में कमी आई है।

हमने किसी भी कैंडल में जितने टर्म इस्तेमाल हो सकते हैं वह सारे टर्म आपको बता दिए हैं हम इन सभी टर्म का इंग्लिश में इस्तेमाल करते हैं ताकि आपको हमेशा आसानी रहे कैंडलस्टिक को समझने में।

चार्ट पैटर्न में भी काफी सारे पैटर्न है जिसमे से कुछ आपको हम बता देगे और काफी आप चार्ट पैटर्न pdf free download करके पा सकते है

हैमर कैंडल क्या होता है?

1) हैमर कैंडल (Hammer Candle): यह कैंडलेस्टिक के नामी से पता लगता है कि हैमर यानी कि हथोड़ा, हथौड़े की जैसा दिखाई देती है जिसमें ऊपर का जो भाग होता है वह बॉडी रहती है असल में वह छोटी सी रहती है लेकिन नीचे का जो भाग रहता है केवल विक रहती है वह ज्यादा होती है जिसे हम है हैमर कैंडल कहते हैं।

Hammer Candle
Hammer Candle

साइकोलॉजी हैमर कैंडल: हैमर कैंडलेस्टिक बनते समय चार्ट का जो पैटर्न होता है वह डाउनवर्ड रहता है यानी की प्राइस घट रहा होता है लगातार, उसके बाद जब हैमर बनता है तब क्या होता है उस कैंडल में हैमर वाली कैंडल में प्राइस नीचे तो जाता है लेकिन फिर खरीददार उस पर हावी हो जाते हैं और प्राइस को ऊपर ले जाते हैं ।

ऊपर ले जाने के बाद वह जहां से प्राइस कैंडल में शुरू हुआ था उसके ऊपर ले जाकर बंद करते हैं जिसमे  ग्रीन कैंडल बनती है या फिर प्राइस काफी नीचे जाने के बाद फिर ऊपर आने लगता है यानी बायर हावी हो जाते है और प्राइस को ऊपर ले जाते है जिससे प्राइस अपने ओपन प्राइस के नीचे आसपास बंद होती है जिसमे लाल कैंडल बनती है जिसमे हैमर कैंडलस्टिक बनती है जो यह इंडिकेशन देती है कि अब बायर (खरीददार) आ चुके हैं।

  • हमर कैंडल यह बताता देता है कि आप प्राइस ऊपर जा सकता।
  • हमर कैंडल में ऊपर का भाग बॉडी होता है और नीचे की लंबी भी होती है
  • हैमर लाल और हरी दोनों हो सकती है लेकिन वीक हमेशा बड़ी होती है बॉडी छोटी होती है वीक के मुकाबले में।
  • हैमर कैंडल ज्यादातर इफेक्टिव तभी होती है जब यह सपोर्ट में बनती है अगर सपोर्ट में हमर कैंडल बनती है तो आप ट्रेड ले सकते हैं।

ये तो बात हुई हैमर की इसके अलवा भी काफी सारे पैटर्न होते है जोकि आपको चार्ट पैटर्न pdf free download करके मिल जायेगा

इनवर्टेड हैमर क्या होता है?

2) इनवर्टेड हैमर (Inverted Hammer) 

जैसा कि नाम से पता चल रहा है हैमर यानी कि हथोड़ा इनवर्टेड यानी कि उल्टा यानी कि उल्टा हथौड़े को इनवर्टेड हैमर बोलते हैं जिस तरह से हैमर बनता है उसी के विपरीत उल्टा इनवर्टेड हैमर बनता है और जब इस तरह का पैटर्न बनेगा तो उसे हम इनवर्टेड हमर बोलेंगे।

Inverted Hammer
Inverted Hammer

साइकोलॉजी इनवर्टेड हैमर

अधिकतर जब प्राइस अपट्रेंड में होता है तब जाकर एक इनवर्टेड हमर का फार्मेशन होता है यानी कि बनता है इनवर्टर हैमर यह दर्शाता है की प्राइस बढ़ रहा था बढ़ते बढ़ते सेलर (बेचने वाले) हावी हो गए और उस प्राइस को फिर नीचे ले जाने लगते है। इसमें क्या होता है ऊपर की विग बड़ी बन जाती है और नीचे का जो बॉडी भाग होता है वह कम होता है इस तरह के फॉर्मेशन को हम इनवर्टेड हैमर(Inverted Hammer)  बोलते है।

  • इनवर्टेड हैमर अधिकतर बढ़ते हुए प्राइस में बनता है।
  • यह दर्शाता है कि अब सेलर इस पर का काबू पा चुके हैं प्राइस नीचे जा सकता है।
  • इनवर्टेड हैमर में ऊपर की वीक बड़ी होती है नीचे चोटी बॉडी होती है उसके बाद नीचे की विक काफी छोटी होती है।
  • इनवर्टेड हमर ग्रीन और रेड दोनों हो सकते हैं लेकिन अधिकतर रेट कैंडल को शूटिंग स्टार का नाम दे दिया जाता है।
  • इनवर्टेड हैमर तभी अच्छा काम करती है जब वह किसी रेजिस्टेंस में बने यह अप प्राइस के अपर बैंड में बने।

लॉन्ग कैंडल क्या होती है? और चार्ट पैटर्न pdf free download कैसे मिलेगी?

3) लॉन्ग कैंडल (Long Candle)

लॉन्ग कैंडल नाम से ही मालूम पड़ता है कि एक लंबी कैंडल जिसमें बायर या फिर सेलर अच्छे खासे एक्टिव होते हैं उसे लॉन्ग कैंडल कहते हैं यह लॉन्ग कैंडल ग्रीन भी हो सकती है और यह लॉन्ग कैंडल रेड भी हो सकती है इसका मतलब यह होता है जब लॉन्ग ग्रीन कैंडल बनती है

तब खरीदारों की यानी कि बायर्स की संख्या अधिक होती है जो प्राइस को काफी ऊंचाई तक ले जाते हैं यह एक बुल्लिश सिग्नल होता है और जब यही रेट लॉन्ग कैंडल बनती है तब बेचने वाले ज्यादा होते हैं बिकवाली बहुत होती है इसमें प्राइस काफी अधिक गिरता है या एक बेयरिश सिग्नल हो सकता है।

Long Candle Stick
Long Candle

इस कैंडल का स्ट्रक्चर कुछ इस तरह से होता है कि एक नीचे छोटी wick होती है ऊपर छोटी wick होती है बीच में काफी बड़ी बॉडी होती है।

जब भी आप दोनों में से कोई कैंडल देखें तो सतर्क हो जाए या तो आपवार्ड मार्केट जाने वाला है या फिर डाउनलोड मार्केट जाने वाला है।

इसके साथ चार्ट पैटर्न pdf free download को आप नीचे से बिल्कुल फ्री डाउनलोड करा सकते है

शॉर्ट कैंडल क्या होती है?

4) शॉर्ट कैंडल (Short Candle)

शॉर्ट कैंडल जैसा के नाम ही से पता चलता है एक छोटी कैंडल जिसमें यह मालूम पड़ता है कि न ही बायर खास इंट्रेस्ट ले रहे हैं और ना ही सेलर यह कैंडल ग्रीन और रेड दोनों हो सकती है यह अक्सर कैंडलेस्टिक पेटर्न के बीच में बनती है तो ज्यादा इफेक्ट मालूम पड़ता है।

Short Candle
Short Candle

इस कैंडल का स्ट्रक्चर कुछ इस तरह से होता है की कैंडल में नीचे हल्की सी वीक होती है ऊपर भी हल्की भी होती है और बीच में एक छोटी बॉडी होती है यह शर्ट कैंडल का नक्शा होता है।

और किस किस पैटर्न में शोर्ट कैंडल इफेक्टिव होती है ये आप चार्ट पैटर्न pdf free download करेक आप अछे से जान पाएंगे

मरूबोजो कैंडल (Marubozu Candle) क्या होती है?

5) मरूबोजो कैंडल (Marubozu Candle)

मरूबोजो कैंडल जिसमें न हीं नीचे विक होती है ना ही ऊपर विक होती है मतलब अगर होगी भी तो बिल्कुल नाम मात्र की होगी या तो बिल्कुल नहीं होगी इस तरह की कैंडल को मरूबोजो कैंडल कहते हैं यह ग्रीन और रेड दोनों सकती है जब ग्रीन कैंडल बनेगी तो यह स्ट्रांग बुलिश का सिग्नल देती है

यानी कि यह पूरी तरह से बताती है कि अगली जो कैंडल बनने वाली है एक ग्रीन कैंडल बनने वाली है और मार्केट ऊपर जाने की बहुत ज्यादा संभावना है वहीं अगर यही रेड मरूबोजो कैंडल बनती है तो यह इंडिकेशन होता है अब अगली जो कैंडल बनेगी वह बेयरिश कैंडल बनेगी और मार्केट के नीचे जाने की बहुत तेजी से संभावना है।

Marubozu Candle
Marubozu Candle

इस चार्ट पैटर्न की इ-बुक और चार्ट पैटर्न pdf free download का लिंक आपको नीचे मिल जायेगा

A) बुलिश क्लोजिंग मरूबोजू (Bullish Closing Marubozu): यह कैंडल तब बनती है जब प्राइस ओपन होता है थोड़ा सा नीचे जाकर फिर बढ़ता है बढ़ता है बढ़ता है और बिना विक के क्लोज हो जाता है एक ग्रीन कैंडल बनती है इसे हम बुल्लिश क्लोजिंग मरूबोजो कैंडल बोलते हैं।

Bullish Closing Marubozu
Bullish Closing Marubozu

B) बेयरिश क्लोजिंग मरूबोजु (Bearish Closing Marubozu) :

यह कैंडल तब बनता है जब प्राइस ओपन होकर थोड़ा सा ऊपर जाता है फिर घटते घटते बगैर वीक के क्लोज हो जाता है यानी कोई भी वीक नहीं होती और क्लोज होता है यह रेड कैंडल बनती है जिसे हम बेयरिश क्लोजिंग मरूबोजु कहते हैं।

Bullish Closing Marubozu
Bullish Closing Marubozu

C) बुलिश ओपेनिंग मरूबोज (Bullish Openning Marubozu) 

इस कैंडल में प्राइस बगैर नीचे जाए ऊपर बढ़ता है और बढ़ता है बढ़ते बढ़ते छोटी वीक के साथ बंद हो जाता है तो उसे हम बुलिश ओपनिंग मरूबोजु कहते है।

Bullish Openning Marubozu
Bullish Openning Marubozu

आपको किसी तरह की दिक्कत का सामना न करना पड़े हम आपको चार्ट पैटर्न pdf free download का लिंक नीचे देंगे

D) बेयरिश ओपनिंग मोरूबोजू (Bearish Openning Marubozu)

इस कैंडल में प्राइस खुलता है बगैर ऊपर जाए नीचे जाता है और नीचे जाता है और नीचे जाता है और एक हल्की सी वीक के साथ या किसी भी तरह हो क्लोज हो जाता है लेकिन प्राइस ऊपर नहीं जा पता है तो इस तरह की कैंडल को हम बोलते हैं बेयरिश ओपनिंग मोरूबोजु कहते है।

Bullish Openning Marubozu
Bullish Openning Marubozu

डोजी कैंडल (Doji Candle) किसे कहते हैं – चार्ट पैटर्न pdf free download क्या है?

6) डोजी कैंडल (Doji Candle) डोजी कैंडल एक छोटी कैंडल होती है जिसमें बायर और सेलर दोनों का खास इंटरेस्ट नहीं होता है यानी की बायर जो है प्राइस को नीचे ले जाते हैं और सेलर प्राइस को ऊपर ले आते हैं इससे एक छोटी कैंडल बनती है जिसकी बॉडी छोटी या बिल्कुल ना के बराबर होती है जिसे हम डोजी कैंडल बोलते हैं यह रेड और ग्रीन दोनों हो सकती है और यह सिंगल खास कोई इफेक्ट नहीं डालती है चार्ट पेटर्न में।

Doji Candle
Doji Candle

डोजी कैंडल में ऊपर की और नीचे की वीक लगभग एक जैसी रहती है और बीच में एक छोटी बॉडी होती है इस तरह का स्ट्रक्चर डोजी कैंडल (Doji Candle) कहलाता है।

चार्ट पैटर्न pdf free download की pdf बेहतरीन इ बुक है आप इसे पढ़कर और समझकर अच्छा फायदा उठा सकते है

क्रॉस डोजी (Cross Doji) क्या होती है?

7) क्रॉस डोजी (Cross Doji): क्रॉस डोजी लगभग हैमर कैंडलेस्टिक पेटर्न के ही तरह होता है लेकिन इसमें सिर्फ इतना फर्क होता है कि इसकी जो नीचे की वीक होती है वह काफी बड़ी होती है बॉडी बहुत छोटी होती है या कहे बिल्कुल लाइन की जैसी होती है और ऊपर की वीक भी छोटी होती है इसका काम भी बिल्कुल हमर कैंडल के जैसा ही होता है जैसा हमर कैंडल करती है वैसे ही क्रॉस-दोजी करती है बस दोनों में अंतर यह है जो हमने बताया है आपको।

Cross Doji Inverted Cross Doji
Cross Doji

क्रॉस डोजी (Cross Doji) क्रॉस डॉगी का स्ट्रक्चर कुछ इस तरह से होता है कि नीचे की जो विक है वह काफी बड़ी होती है बीच की बॉडी छोटी होती है ऊपर की जो वीक होती है वह भी छोटी होती है तो इस तरह के पैटर्न को क्रॉस डोजी पैटर्न बोलते हैं यह कैंडल रेड और ग्रीन दोनों हो सकती है।

यह कैंडल यह दिखाती है, कि पहले सेलर प्राइस को नीचे ले गए काफी नीचे ले जाने के बाद बायर ने इसका कमान अपने ऊपर ले लिया और प्राइस को ऊपर ले गए अच्छा खासा ऊपर ले गए और ऊपर जाकर क्लोजिंग दी जिससे क्या होता है वीक नीचे की बड़ी हो जाती है और ऊपर की जो वीक है वह छोटी रहती है बॉडी भी छोटी रहती है तो इस तरह का पैटर्न क्रॉस डोजी पैटर्न कहलाता है, यह इंडिकेशन देता है कि बायर पावरफुल है।

और बेहतरीन तरीके से समझने के लिए आप चार्ट पैटर्न pdf free download की बुक नीचे से प्राप्त कर सकते है

इनवर्टेड क्रॉस डोजी (Inverted Cross Doji) किसी कहते है?

8) इनवर्टेड क्रॉस डोजी (Inverted Cross Doji) इनवर्टेड क्रॉस डोजी (Inverted Cross Doji) बिल्कुल इनवर्टेड हैमर की तरह होता है आप इनमें अंतर यह समझ लीजिए कि इनवर्टेड क्रॉस डोजी में ऊपर की वीक काफी बड़ी होती है बॉडी बिल्कुल छोटी होती है बिल्कुल लाइन की तरह फिर नीचे की जो वीक होती है वह काफी छोटी होती है तो इस तरह के जो कैंडल बनती है उसे हम इनवर्टेड क्रॉस डॉगी कहते हैं।

Cross Doji Inverted Cross Doji
Cross Doji

इनवर्टेड क्रॉस दोजी (Inverted Cross Doji) इनवर्टेड क्लोज्ड दोजी पैटर्न क्रॉस दोजी पैटर्न का जस्ट ऑपोजिट होता है इसमें पहले बायर एक्टिव रहते हैं लेकिन उनकी ताकत कम पड़ जाती है तो सेलर उसे पर अपना कमानड बनाते हैं और प्रिंस को नीचे ले आते हैं और नीचे ले जाकर क्लोज करते हैं।

इनवर्टेड क्रॉस डॉगी का पैटर्न यह दिखाता है की मार्केट में सेलर जो है अभी एक्टिव है और प्राइस और नीचे जा सकता है।

कैंडल स्टिक पैटर्न को और समझने के लिए आप चार्ट पैटर्न pdf free download को नीच से प्राप्त कर सकते है

लॉन्ग लेग्ड दोजी (Long Lagged Doji) किसे कहते है?

9) लॉन्ग लेग्ड डोजी (Long Lagged Doji)

लॉन्ग लेग्ड डॉगी का जो स्ट्रक्चर होता है वह इस तरह से होता है कि ऊपर और नीचे की जो वीक होती है वह काफी बड़ी होती है और जो बॉडी होती है वह बहुत ही छोटी होती है बिल्कुल एक लाइन की तरह तो इस तरह के जो पैटर्न होता है जिसे हम बोलते हैं लॉन्ग लेग्ड दोजी (Long Lagged Doji) कहते है

Long Lagged Doji
Long Lagged Doji

इसमें रेड कैंडल भी हो सकती है और ग्रीन कैंडल भी हो सकती है यह कैंडल का स्ट्रक्चर यह बताता है कि काफी तेजी से बायर ने नीचे प्राइस को ऊपर धकेला और सेलर ने प्राइस को नीचे धकेला लेकिन दोनों लोगों ने बराबर ताकत लगाई इस वजह से जो बॉडी का स्ट्रक्चर है वह काफी छोटा रह गया और विक बड़ी हों गायी। मतलब इस कैंडल के अनुसार दोनों की ताकत लगभग बराबर थी।

ड्रैगनफ्लाई डीजी (Dragonfly Doji) किसे कहते है?

10) ड्रैगनफ्लाई डीजी (Dragonfly Doji) इस पैटर्न में नीचे की विक काफी बड़ी होती है बॉडी एकदम छोटी सी होती है और ऊपर कोई भी वीक नहीं होती है या फिर ना के बराबर होती है इस तरह के पैटर्न को ड्रैगनफ्लाई डीजी (Dragonfly Doji) पैटर्न कहते हैं।

Dragonfly Doji Gravestone Doji
Dragonfly Doji

यह पैटर्न  यह दिखाता करता है कि पहले सेलर एक्टिव थे और प्राइस को नीचे लेकर गए लेकिन फिर बाद में बायर ने इसमें अपनी पकड़ बना ली और प्राइस को ऊपर ले गए और ऊपर जाकर उसने क्लोजिंग दी तो इसमें क्या होता है नीचे एक बड़ी वीक बन जाती है बॉडी काफी नाम मात्र की रहती है और ऊपर की बिग भी नाम मात्र की रहती है या नहीं होती है तो इस तरह का पैटर्न ड्रैगनफ्लाई दोगी पैटर्न कहलाता है।

और अधिक कैंडल के बारे में जानने के लिए आप चार्ट पैटर्न pdf free download का इस्तेमाल कर सकते है जिसका लिंक आपको नीचे मिल जायेगा

ग्रेवस्टन डोजी (Gravestone Doji) किसे कहते है?

12) ग्रेवस्टन डोजी (Gravestone Doji) यह ड्रैगनफ्लाई का जस्ट उल्टा होता है इसमें क्या होता है बायर पहले प्राइस को ऊपर ले गए होते हैं लेकिन उनके कमजोर पढ़ने के कारण सेलर उन पर अपना कमांड बना लेते हैं जिससे जो शेर के प्राइस में वह नीचे आने लगते हैं और कैंडल खत्म होने तक यह नीचे क्लोजिंग देते हैं जिसमें ऊपर की वीक काफी बड़ी हो जाती है बॉडी छोटी रहती है और नीचे की नहीं होती है  जिसे हम ग्रेवस्टन डोजी (Gravestone Doji) कहते हैं।

Dragonfly Doji Gravestone Doji
Dragonfly Doji

हमने आपको काफी सारी कैंडल स्टिक से परिचय करा दिया है आने वाले समय में आपको और भी अधिक कैंडलेस्टिक से परिचय कराएंगे।  कैंडल स्टिक पैटर्न को आप नीचे डाउनलोड का लिंक दिया होगा उसे जाकर डाउनलोड कर सकते हैं आपको बुक भी दी गई है एक और कैंडलेस्टिक चार्ट पैटर्न भी दिए गए हैं आप उसको डाउनलोड कर सकते हैं।

इसके साथ ही हमने दो आर्टिकल और लिखे है जिसको पढ़कर आप अपनी स्किल तो थोडा और बेहतर कर पाएंगे पहला और दूसरा, पहले वाले में आपको एक फ्री pdf बुक भी मिल जाएगी बाकि नीचे से आप तीन और बुक डाउनलोड करे सकते है चार्ट पैटर्न pdf free download करे ।

चार्ट पैटर्न pdf free download

Book Download

चार्ट पैटर्न pdf free download

Bonus Artilce Pdf


Recent Post

Short Post

मेरा नाम M R है और मैं एक शेयर मार्किट एनालिस्ट और ब्लॉगर हूँ. मुझे शेयर बाज़ार के बारे में जानकारी रखना और बताना अच्छा लगता है. मुझे लगभग 7 साल का अकाउंट्स का अनुभव है और लगभग 4 साल से शेयर बाज़ार में एक्टिव हूँ. मैं एक वेबसाइट में लगातार शेयर मार्किट की खबरें, टिप्स, ट्रेंड्स और विश्लेषण अपडेट करता हूँ. मेरा उद्देश्य है कि मैं शेयर मार्किट के बारे में ज्यादा से ज्यादा लोगों को जागरूक और शिक्षित करूँ. मेरा ब्लॉग मेरा प्रयास है कि मैं शेयर मार्किट के बारे में अपने विचार, अनुभव और ज्ञान को आपके साथ साझा करूँ. आप मुझे अपने सुझाव, प्रश्न और टिप्पणियाँ भेज सकते हैं. मुझे आपसे सुनने का इंतजार रहेगा

Sharing Is Caring:

Leave a comment

दो गुना लिस्ट होगा ये आईपीओ, अभी है खरीदने का मौका मात्र 70 रुपए के माल्टीबैगर पेनी शेयर ने दिया 800% ताबड़तोड़ रिटर्न, इलेक्ट्रिक स्कूटी बनाती है कंपनी, निवेशक हुए मलाल इस डिफेंस स्टॉक में FIIs बढ़ा रहे अपनी शेयर होल्डिंग, क्या होने वाला है इसमें बढ़ा खेल? 6 महीने में पैसा डबल अब होंगे 10 शेयर से 100 शेयर, जल्दी उठाए फायदा रईसों के होटल वाली कंपनी, जूनिपर होटल्स ले कर आ रही आइपीओ, कितना बनेगा प्रॉफिट या होगा नुकसान?